नदी में सिक्का डालना नहीं है अंधविश्वास, इसके पीछे छिपा है गहरा साइंस


नई दिल्ली: भारत परंपराओं का देश है. हमारे यहां कई खास बातें हैं जिनके मतलब और शुरुआती कारणों के बारे में हमें जानकारी नहीं होती है. आपने गौर किया होगा कि हम कभी नदी के पास जाते हैं तो कई लोग उसमें सिक्का डालते हुए दिखेंगे. लेकिन इसके कारण को लोग नहीं जानते हैं. ऐसे में आइए हम आपको बताते हैं नदी में सिक्का डालने की पौराणिक वजह के बारे में. दरअसल कई लोगों को लगता है कि ऐसा करने से गुड लक होता है. 

नदी में सिक्के डालने की ये खास वजह

इस रिवाज के पीछे एक वजह छिपी हुई है. दरअसल जिस समय नदी में सिक्का डालने की ये प्रथा शुरू हुई थी एस समय तांबे के सिक्के चला करते थे. तांबा पानी का प्यूरीफिकेशन (Water Purification) करने में काम आता है. इसलिए लोग जब भी नदी या किसी तालाब के आसपास से गुजरते थे तो उसमें तांबे का सिक्का डाल दिया करते थे.

ज्योतिष में कही गई है ये बात

ज्योतिष में भी कहा गया है कि लोगों को अगर किसी तरह का दोष दूर करना हो तो उसके लिए वो जल में सिक्के और कुछ पूजा की सामग्री को प्रवाहित करे. इसके साथ ही ज्योतिष में ये भी कहा गया है कि अगर बहते पानी में चांदी का सिक्का डाला जाए तो उससे दोष खत्म होता है. 


0
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *