श्रेयस अय्यर ने तोड़ा विराट कोहली का 6 साल पुराना रिकॉर्ड, बने ये कारनामा करने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज


धर्मशाला: टीम इंडिया के 27 वर्षीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर इन दिनों अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ दौर से गुजर रहे हैं। वो जिस जगह कदम रख रहे हैं सफलता उनके कदम चूम रही है।

टी20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी पहनकर खेलने का श्रेयस अय्यर को जो भी मौका मिल रहा है वो उसे कतई खाली नहीं जाने दे रहे हैं। उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए आईपीएल नीलामी में कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्हें 12.25 करोड़ रुपये खर्च करके अपनी टीम में शामिल किया और उनके हाथ में टीम की कमान भी सौंप दी। कोलकाता के अलावा उन्हें टीम में फिर से शामिल करने की दिल्ली कैपिटल्स ने पुरजोर कोशिश की लेकिन उसके हाथ सफलता नहीं लगी।

बने लगातार तीन अर्धशतक जड़ने वाले दूसरे भारतीय

आईपीएल नीलामी के बाद श्रेयस अय्यर श्रीलंका के खिलाफ तीन मैच की टी20 सीरीज में बड़े आत्मविश्वास के साथ उतरे थे। इस बात का असर उनके खेल पर भी दिखाई दिया और श्रीलंकाई गेंदबाजों के छक्के छुड़ाते हुए उन्होंने सीरीज में लगातार तीन अर्धशतक जड़ दिए। सीरीज की शुरुआत उन्होंने लखनऊ में 28 गेंद में 57* रन की पारी के साथ की थी।इसके बाद उन्होंने धर्मशाला में खेले गए दूसरे मैच में लक्ष्य का पीछा करते हुए 44 गेंद में नाबाद 74* रन जड़ दिए। रविवार को धर्मशाला में ही खेले गए तीसरे टी20 में एक बार फिर लक्ष्य का पीछा करते हुए उनका बल्ला चला और वो 45 गेंद में नाबाद 73 रन बनाकर नाबाद रहे। इसके साथ ही श्रेयस अय्यर विराट कोहली के बाद लगातार तीन टी20 मैचों में अर्धशतक जड़ने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बन गए है।

तोड़ा विराट कोहली का 6 साल पुराना रिकॉर्ड

इसके साथ ही अय्यर ने विराट कोहली का तीन मैच की द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का विराट कोहली का 6 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। विराट ने साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैच की सीरीज में 199 रन बनाए थे। वहीं अय्यर ने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में तीन मैच में तीन अर्धशतक के साथ नाबाद रहते हुए 204 रन जड़ दिए। वो तीन मैच की टी20 सीरीज में 200 से ज्यादा रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज हैं।

चुने गए प्लेयर ऑफ द सीरीज

श्रेयस अय्यर को श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द सीरीज चुने गए। उन्होंने सीरीज में 3 मैच की 3 पारियों में 3 बार नाबाद रहते हुए 174.35 के स्ट्राइक रेट से 204 रन बनाए। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नाबाद 74 रन रहा। धर्मशाला में खेले गए सीरीज के दूसरे और तीसरे दोनों ही मैचों में उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।


0
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *