युजवेंद्र चहल को 15वीं मंजिल से लटकाने वाले पर फूटा रवि शास्त्री का गुस्सा


नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का भारतीय लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) के उस खुलासे पर गुस्सा फूटा है, जिसमें उन्होंने यह बताया है कि आईपीएल 2013 के दौरान एक विदेशी खिलाड़ी ने उन्हें होटल की 15वीं मंजिल की बालकनी से लटका दिया था. शास्त्री ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए कड़ी कार्रवाई की मांग की. शास्त्री के मुताबिक, जिस खिलाड़ी ने चहल के साथ ऐसा किया था, उस पर लाइफ बैन लगना चाहिए और उसे भविष्य में कभी भी क्रिकेट मैदान पर आने नहीं देना चाहिए.

रवि शास्त्री ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में कहा, “मुझे नहीं पता है कि वो खिलाड़ी कौन था? वो होश में नहीं था. यह चिंता की बात है. इस तरह की घटना किसी भी सूरत में हंसने लायक नहीं है. उन्होंने कहा कि अगर आज ऐसी कोई घटना होती है तो उस खिलाड़ी को फौरन बैन कर देना चाहिए और रिहैब सेंटर भेजा जाना चाहिए. क्योंकि यह किसी की जान का सवाल था. लोगों को यह मजाक की बात लग सकती है. लेकिन मेरे लिए यह बिल्कुल हंसने वाली बात नहीं है.”

चहल के साथ बदसलूकी करने वाले पर लाइफ बैन लगे: शास्त्री

यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने अपने लंबे पेशेवर क्रिकेट करियर में कुछ इस तरह का सामना किया है, शास्त्री ने कहा,”कभी नहीं. यह पहली बार है, जब मैं इस तरह के वाकये के बारे में सुन रहा हूं और यह बिल्कुल मजाकिया नहीं है. अगर यह आज होता, तो मैं कहूंगा, ऐसा करने वाले व्यक्ति को फिर से क्रिकेट के मैदान के पास न आने दें. तब उसे एहसास होगा कि यह कितना मज़ेदार था.”

शास्त्री ने कार्रवाई की मांग की

शास्त्री ने महसूस किया कि संवेदनशीलता, खिलाड़ियों को शिक्षित करना और इस तरह की घटनाओं को अधिकारियों की जानकारी में लाना बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा कि आप नहीं चाहेंगे कि किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के जरिए आप जागें…अगर आगे ऐसा कुछ होता है तो आपको जिम्मेदारों को यह बताना होगा. जैसा कि फिक्सिंग से जुड़े मामलों में एक खिलाड़ी को एंटी करप्शन यूनिट को जानकारी देनी होती है. एक खिलाड़ी के नाते यह आपकी जिम्मेदारी होती है कि आप जिम्मेदार अधिकारियों को इसकी जानकारी दें, नहीं तो आप पर ही कार्रवाई हो जाती है. चहल जैसे मामले में भी ऐसा ही कुछ होना चाहिए.


0
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *