एलन मस्क बने ट्विटर के नए बॉस, 44 अरब डॉलर में फाइनल हुई डील


नई दिल्ली : दुनिया के सबसे अमीर शख्स में शामिल और टेस्ला के चीफ एलन मस्क ने आखिरकार ट्विटर को खरीद लिया। कंपनी की तरफ से इस सौदे को लेकर जानकारी दी गई। कंपनी ने बताया कि 44 अरब अमेरिकी डॉलर यानी करीब 3368 अरब रुपये में यह सौदा हुआ है। पॉपुलर सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर को खरीदने को लेकर एलन मस्क के साथ डील के बीच ट्विटर ने कहा कि अधिग्रहण प्रक्रिया पूरी होने के बाद यह एक निजी स्वामित्व वाली कंपनी बन जाएगी। इस बीच टेस्ला चीफ का एक ट्वीट बहुत तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस ट्वीट के बाद जानकार मान रहे हैं कि दोनों कंपनियों के बीच डील डन हो चुकी है। इससे साफ है कि ट्विटर पर दुनिया के सबसे अमीर शख्स में से एक एलन मस्क का कब्जा हो गया है।

मेरे सबसे बुरे आलोचक भी ट्विटर पर बने रहेंगे
एलन मस्क ने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि मेरे सबसे बुरे आलोचक भी ट्विटर पर बने रहेंगे, क्योंकि फ्री स्पीच का यही मतलब है।’ मस्क का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इससे पहले खबर थी कि ट्विटर 54.20 डॉलर प्रति शेयर नगद कीमत पर एलन मस्क के हाथ में जा सकता है। रिपोर्ट्स के अनुसार, ट्विटर इस सौदे को पूरा करने के करीब था। यह वही कीमत है, जो एलन मस्क ने ट्विटर को ऑफर की थी। मस्क की तरफ से कहा गया था कि यह उनकी तरफ से बेस्ट और फाइनल ऑफर है।

देर रात हो गई डील फाइनल होने की घोषणा
शेयरधारकों को लेनदेन की सिफारिश करने की बोर्ड की बैठक के बाद ट्विटर सोमवार देर रात इस 43 अरब डॉलर की डील की घोषणा कर दी। एलन मस्क ने पिछले हफ्ते 43 अरब डॉलर में माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर को खरीदने की पेशकश की थी। मस्क ने कहा था कि वह ट्विटर को इसलिए खरीदना चाहते है, क्योंकि उन्हें नहीं लगता कि यह स्वतंत्र अभिव्यक्ति के मंच के रूप में अपनी क्षमता पर खरा उतर पा रहा है। मस्क ट्विटर को खरीदने की पेशकश करने के बाद से ही इस डील के लिए कंपनी पर दबाव बना रहे थे। वॉल स्ट्रीट जर्नल की खबर के अनुसार मस्क और ट्विटर की तरफ से डील को लेकर मीटिंग हुई थी। इसके बाद से तय हो गया था कि ट्विटर मस्क का ऑफर स्वीकार करने का मन बना चुका है।

मस्क के पास ट्विटर के 9.2% शेयर
टेस्ला चीफ एलन मस्क के पास इस समय ट्विटर में 9.2 फीसद हिस्सेदारी है। एलन मस्क ने कुछ समय पहले ही ट्विटर में यह हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके साथ ही मस्क ट्विटर के सबसे बड़े शेयरधारक बन गए थे। हालांकि, बाद में वेंगार्ड ग्रुप की तरफ से रखे गए फंड ने ट्विटर में 10.3 फीसद हिस्सेदारी खरीदी ली। इस तरह यह कंपनी का सबसे बड़ा शेयरहोल्डर बन गया था।


0
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *