May 24, 2024

आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में आप पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने रखा एक दिन का सांकेतिक उपवास

0

देहरादून-  आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के लोकप्रिय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी की नाजायज गिरफ्तारी के खिलाफ आज 7 मार्च (रविवार) को पूरे देश भर में, सभी राज्यों में, सभी जिलों में और सभी बड़े शहरों में “आम आदमी पार्टी” के कार्यकर्ताओं ने सामूहिक उपवास का कार्यक्रम रखा। देहरादून मे भी उपवास कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान पार्टी के प्रदेश प्रभारी बरिंदर गोयल, प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर समेत पार्टी के कई पदाधिकारी मौजूद रहे।

इस दौरान पार्टी के प्रदेश प्रभारी ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि आज लोकतंत्र पूरी तरह खतरे में है।उन्होंने कहा कि आज आप के वरिष्ठ नेता जेल में बंद हैं, लेकिन पार्टी इससे डरने वाली नहीं है, ये घटना पार्टी के लिए एक संजीवनी है।उन्होंने कहा कि दिल्ली के रामलीला मैदान में जो सैलाब उमडा था उसने ये साबित कर दिया कि लोग केजरीवाल जी और आप पार्टी को कितना पसंद करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि जब से इंडी गठबंधन का गठन हुआ है तबसे बीजेपी की नींद उडी हुई है।
*
वहीं प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पूरी तरह से आसंवैधानिक है। उन्होंने कहा कि आज देहरादून में शांतिप्रिय रूप से किए जाने वाले उपवास कार्यक्रम को लेकर जब प्रशासन से अनुमति ली गई तो हमें कार्यक्रम करने की इजाजत नहीं मिली ,जिस कारण हमें यह कार्यक्रम अपने कार्यालय में करना पड़ा। उन्होंने आगे कहा कि संविधान में अभिव्यक्ति की आजादी सभी नागरिकों को है। भाजपा पर कटाक्ष करते हुए अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा चाहे कितने भी प्रयत्न कर रहे कर ले, लेकिन वह आम आदमी पार्टी के किसी भी कार्यकर्ता को झुका और डिगा नहीं सकते।

वहीं कई पदाधिकारियों ने इस दौरान अपने विचार रखते हुए जहाँ पार्टी को मजबूत बनाने पर जोर दिया वहीं संघटन में पारदर्षिता रखने का भी अनुरोध प्रभारी और अध्यक्ष जी से किया गया।

इस दौरान प्रदेश कार्यालय में उपवास कार्यक्रम के दौरान विशाल चौधरी, कुलवंत सिंह, डी के पाल, रविंद्र आंनद, उमा सिसोदिया, राजू मौर्य, अशोक सेमवाल, डॉ शोऐब अंसारी, सीमा कश्यप , श्याम लाल नाथ, श्याम बाबू पांडे, मंजु शर्मा,सुधा पटवाल, दीप्ति रावत, कासिम समेत अन्य आप कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *