वित्तीय वर्ष 2024-25 यात्रा व्यवस्थाओं के लिए एक सौ सोलह करोड़ से अधिक का बजट पारित हुआ

0

देहरादून- केनाल रोड स्थित बीकेटीसी कार्यालय में अध्यक्ष अजेंद्र अजय की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में श्री बदरीनाथ धाम के लिए प्रस्तावित आय 540044601.00 (चौवन करोड़ चवालीस हजार छ सौ एक रुपये ) आय प्रस्तावित जबकि श्री केदारनाथ धाम हेतु 622432425 ( बासठ करोड़ चौबीस लाख बत्तीस हजार चार सौ पच्चीस) आय का बजट प्रस्तुत किया गया। दोनों धामों हेतु 974600026( सत्तानबे लाख छयालीस हजार छब्बीस रूपये) व्यय प्रस्तावित किया गया है।

बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बताया कि बजट में यात्री सुविधाओं पर जोर दिया गया है। मंदिरों का रख -रखाव, जीर्णोद्धार सहित पूजा एवं भोग व्यवस्था, विश्रामगृहों की साज -सज्जा, नवनिर्माण, ई-आफिसों की स्थापना, सदावर्त राशि, बदरीनाथ, केदारनाथ में अवस्थापना सुविधाओं, कार्यालय आवासों के निर्माण, प्रचार- प्रसार, कर्मचारियों के कल्याण, समिति द्वारा संचालित संस्कृत विद्यालयों में अवस्थापना सुविधाओं के विकास आदि पर फोकस किया गया है।
मुख्य कार्याधिकारी योगेंद्र सिंह ने बजट 2024-25 की प्रस्तावना रखते हुए बताया कि गत वर्ष बीकेटीसी को 92,36,29,294 ( बयानबे करोड़ छत्तीस लाख उनत्तीस हजार दो सौ चौरानबे रुपये की आय हुई, जिसके मुकाबले 75,78,05,803 ( पिछत्तर करोड़ अठत्तर लाख पांच हजार आठ सौ तीन) रूपये का व्यय हुआ। बैठक बजट पर विस्तृत चर्चा के बाद सर्व सम्मति से पारित कर दिया गया।

मंदिर समिति के धार्मिक सेवा संवर्ग सेवा नियमावली 2024 के तहत भर्ती प्रक्रिया एवं नियमानुसार वेदपाठी, पोतीत, पुजारी आदि पदों पर नियुक्ति के संबंध में विचार-विमर्श हुआ। यात्राकाल में व्यवस्था/प्रबंधन/साफ-सफाई के दृष्टिगत अधिक कार्मिकों की तैनाती पर चर्चा हुई।

यात्री सुविधाओं के विकास के लिए प्रदेश सरकार को दस करोड़ की धनराशि

बीकेटीसी की बजट बैठक में केदारनाथ व बदरीनाथ यात्रा मार्ग और धामों में विभिन्न यात्री सुविधाओं के विकास के लिए दस करोड़ की धनराशि प्रदेश सरकार को देने का निर्णय लिया गया। इस धनराशि के लिए रुद्रप्रयाग व चमोली के जिलाधिकारी शासन के माध्यम से बीकेटीसी को प्रस्ताव उपलब्ध कराएंगे।

श्री राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के लिए पीएम मोदी का धन्यवाद

बैठक में ध्वनिमत से अयोध्या श्री राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद प्रस्ताव पारित हुआ। प्रस्ताव में कहा गया कि पांच सौ वर्षों के अनथक संघर्षों व तमाम लोगों के बलिदानों के परिणामस्वरूप यह ऐतिहासिक क्षण आया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित प्रदेश सरकार का भी बीकेटीसी बोर्ड ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

आगामी चारधाम यात्रा की वृहत्त तैयारियों के मार्गदर्शन हेतु मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित प्रदेश सरकार का बीकेटीसी बोर्ड ने धन्यवाद ज्ञापित किया आशा व्यक्त की कि आगामी यात्रा वर्ष में तीर्थयात्रियों की संख्या में इजाफा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed